अमीर बनाने के लिए अपनाये बचत के ये तरीके

खर्च  की  कोई  सीमा  नहीं  हैं . लेकिन , एक  बार  आप  बचत  करना  सीख  जाये  तो  लाइफ  की  कई  प्रोब्लेम्स  से  बचा  जा  सकता  हैं . जरूरी  नहीं  हैं  की  आपकी  सैलरी  ज्यादा  हो  तब  ही  आप  बचत  के  बारे  में  सोचे . छोटी  शुरुवात  से भी  बड़ी  पूँजी  जुताई  जा  सकती  हैं . कई  बार  हमारे  पास  पैसे  होते  हैं , लेकिन  हम  यह  डीडे  नहीं  कर  पते  हैं  की  पैसे  कहा  इन्वेस्ट  किये  जाये . हम  आपको  बता  रहे  हैं  , निवेश  के  छोटे  और  आसान  तरीके , जिनके  जरिये  आप  सेविंग्स  तो  करेंगे  ही , आमिर  भी  बन  जायेंगे .

इतनी  सी  सेविंग  और  जुटा  सकते  हैं  खूब  सारा  पैसा
अगर  आप  हर  महीने  3200  रूपीस  की  सेविंग करते  हैं  और  इस  राशि  पर  आपको  10% से  रेतुर्न  मिलता  हैं   तो  30 इयर्स  में  आपके  पास  72 लाख  94 हज़ार  रुपये  हो  जायेंगे .
इन  चीज़ों  को  समझने  के  बाद  करे  निवेश
निवेश  का   ऑप्शन  जरूरत  के  मुताबिक  चुने . मसलन  , मंथली  रिक्वायरमेंट्स , आप  की  आगे , सैलरी  , रिस्क  प्रोफाइल  और  इन्वेस्टमेंट  के  प्लान . सबसे  जरूरी  हैं  की  कितने  रिटर्न्स  की  आप  उम्मीद  कर  रहे  हैं . यह  समझने  के  बाद  डीडे  करे  की  शार्ट  टर्म  या  लॉन्ग  टर्म  में   इन्वेस्ट  करना  हैं

बचत  के  लिए  अलग  सेविंग  अकाउंट
बचत  की  राशि  को  सैलरी  अकाउंट  में  रखने  की  बजाये  दूसरे  अकाउंट  में  रखे . उस  पैसे  को  अलग -अलग  जगह  निवेश  करे . पोस्ट  ऑफिस  और  बैंक्स  की  डिफरेंट  सेविंग  स्कीम  इसका  सबसे  आसान  और  सेफ  ऑप्शन  हैं . इसके  साथ  ही  शेयर  मार्किट , म्यूच्यूअल  फण्ड, PPF, इन्शुरन्स  और LIC सबसे  उत्तम  रिटर्न देने  वाले  ओपशंस हैं .


आईये  देखते  हैं  कैसे  आप  अपनी  सेविंग्स  को  बढ़ा  सकते  हैं  और  आप  कहा -कहा  इन्वेस्ट  कर सकते हैं .
PPF अकाउंट :- आप  सैलरी  पर्सन  हो  या  बिजनेसमैन . अपनी  बचत  का  लग -भाग  25% लॉन्ग  टर्म  में  निवेश  करे . लॉन्ग  टर्म  में  पब्लिक  प्रोविडेंट  फण्ड , प्रोविडेंट  फण्ड  और  लाइफ  इन्शुरन्स  गुड  हैं . PPF और  PPF स्कीम्स  में  मौजूदा  समय  में  8% एनुअल  रिटर्न  मिल  रहा  हैं .

LIC:- LIC में कई स्कीम हैं. इनमें बीमारी, आक्सिडेंट, लोन सुविधा कवर होने के साथ-साथ सीमा पूरी  होने में मोटी राशि मिल जाती हैं. LIC में 5% से 7% तक रिटर्न मिलता हैं. इससे आप खुद और अपनी फेमिली को सुरक्षित रख सकते हैं. फेमिली पर प्रेशर नही पड़ता हैं. बच्चो की स्टडी, बीमारी, मॅरेज जैसे काम होने पर धन राशि मिलती रहती हैं.

शेयर  मार्किट:- यह सेक्टर इनवेस्ट के लिए हाइ रिस्क और हाइ रिटर्न वाला हैं. हलाकि शेयर मार्केट में कई कंपनी ऐसी हैं जो इनवेस्ट के लिए सेफ मानी जाती हैं. जैसे बॅंकिंग सेक्टर, पावर  सेक्टर, आईटी सेक्टर, ऑटो सेक्टर आदि. बॅंकिंग में  SBI, HDFC, ICICI, IDBI आदि अच्छे  शेयर  में गिने जाते हैं. पावर  सेक्टर में NTPC, IT में INFOSYS, WIPRO, TCS, मेटल में Hindalco, Tata Steel , Tisco, ऑटो सेक्टर में मारुति, टेक्सटाइल में रिलाइयन्स इंडस्ट्रीस आदि बेहतर विकल्प माने जाते हैं.

 गोल्ड  में  निवेश :- गोल्ड, सिल्वर निवेश के हिसाब से इन्वेस्ट करना बेहतर साबित होता आया हैं. हलाकि कुछ समय से इसमें अच्छा रिटर्न नही मिल रहा हैं. लेकिन मार्केट एक्सपर्ट्स लोंग टर्म के हिसाब से इसे अच्छा ऑपशन मानते हैं. इसमे आप अपनी बचत का 15% से 25% ही निवेश करे तो ही अच्छा हैं.

Mutual Fund:- यह सिस्टेमैटिक इनवेस्टमेंट प्लान हैं. इसमे इन्वेस्टर मनी डाइरेक्ट ना लगा कर फंड मॅनेजर के माध्यम से लगता हैं. इसमें आप हर महीने अपनी सेविंग के हिसाब से पैसा लगा सकते हैं. हर साल 12% से 15% तक रिटर्न मिल जाता हैं. लेकिन इसमें भी तोड़ा रिस्क होता हैं, क्योंकि यह मार्केट पर निर्भर होता हैं.

 Recurring aur Fixed Deposit (RD) :-  RD अकाउंट में भी निवेश किया जा सकता हैं. आरडी में भी अच्छा रिटर्न्स मिलता हैं. इसके अलावा फिक्स्ड डेपॉज़िट भी एक अच्छा ऑपशन हैं. लेकिन सारा पैसा फिक्स्ड डेपॉज़िट में मत लगाए. क्योंकि अचानक ज़रूरत पड़ने पर अगर आप FB को तोड़ते हैं तो कम ब्याज़ मिलता हैं. साथ ही कभी-कभी बॅंक पेनाल्टी लगा देते हैं.

प्रॉपर्टी  में  इन्वेस्ट :- रियल एस्टेट अच्छा विकल्प हैं. लेकिन इसमे निवेश करने से पहले वर्तमान हालत को देख लेना चाहिए. कोशिश करे की बहुत महनगी प्रॉपर्टी ना हो. क्योंकि कभी-कभी बेज़ार में गिरावट होने के साथ नुकसान  होने की संभावना रहती हैं. इसके साथ ही अगर आपने ईक्विटी में रुपये लगा रखे हैं तो वह 2-3 साल में अच्छा रिटर्न देते हैं. और उन रुपये को रियल एस्टेट में शिफ्ट कर देना भी अच्छा डिसीजन हैं

loading...